यश चोपड़ा (यश चोपड़ा) की बेहतरीन फिल्मों में से एक ‘लम्हे’ ने फिल्म के 30 साल पूरे कर लिए हैं। 1991 में रिलीज हुई इस आइकॉनिक फिल्म में अनिल कपूर और श्रीदेवी मुख्य कलाकार थे। इनके अलावा वहीदा रहमान और अनुपम खेर भी अहम भूमिकाओं में थे। यश की एक्सपेरिमेंटल फिल्म के 30 साल पूरे होने पर अनिल कपूर ने सोशल मीडिया पर फिल्म का हिस्सा बनने पर खुशी जाहिर की। इसके अलावा फिल्म की शूटिंग से जुड़ी पुरानी यादें भी साझा की गईं। इस फिल्म में श्रीदेवी ने शानदार अभिनय किया था।

‘लम्हे’ के दिनों की यादें शेयर करते हुए अनिल कपूर ने मीडिया से कहा कि ‘कभी-कभी आपका इरादा किसी फिल्म के प्रति अच्छा होता है, तो वह हमेशा आपसे कुछ मांगता है। मैंने फिल्म निर्माता और पटकथा के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करने के लिए बहुत त्याग किया है। श्रीदेवी को याद करते हुए अनिल ने कहा कि जब हम इस फिल्म की शूटिंग कर रहे थे तब श्रीदेवी के पिता का देहांत हो गया था। तब यश जी ने मुझसे लंदन में ही रहने का अनुरोध किया। मुझे मुंबई में दो फिल्मों की शूटिंग करनी थी, खासकर मेरे अपने प्रोडक्शन के रूप की रानी चोरों का राजा की, इसलिए सभी तारीखों को रद्द करना पड़ा। हमने आर्थिक रूप से बहुत कुछ खोया था, यह सब प्रतिबद्धता को पूरा करने की प्रक्रिया में हुआ।

अनिल कपूर का कहना है कि फिल्म ‘लम्हे’ की शूटिंग के लिए टीम को बिना शूटिंग के लंदन में रहना पड़ा, जबकि अनिल कपूर की कई फिल्में भारत में लटकी हुई थीं। 20 दिन बिना काम के रहे। हम होटल में नहीं बल्कि यश जी के एक दोस्त के घर पर रुके थे, क्योंकि होटल में रहना बहुत महंगा था। बाकी यूनिट भी एक-दूसरे के रिश्तेदार के घर रह रही थी, इसलिए हमने पैसे बचाए। श्रीदेवी के वापस लौटने पर हमने अपना लंदन शेड्यूल पूरा किया।

‘लम्हे’ के 30 साल पूरे होने पर खुश हुए अनिल कपूर ने इंस्टाग्राम पर फिल्म से जुड़ी तस्वीरें शेयर की और लिखा यश चोपड़ा का ‘बेस्ट लम्हे’…

(फोटो क्रेडिट: अनिलस्कापुर/इंस्टाग्राम)

यह भी पढ़ें- ‘दीवाना’ हिट नहीं होती तो गौरी कभी शाहरुख खान की नहीं होती, पढ़ें दिलचस्प किस्सा

फिल्म ‘लम्हे’ की कहानी में पल्लवी (श्रीदेवी) को देखकर वीरेन (अनिल कपूर) का दिल टूट जाता है और वह उससे शादी करना चाहता है। लेकिन पल्लवी सिद्धार्थ से प्यार करती है। पल्लवी और सिद्धार्थ की शादी हो जाती है और दोनों की एक कार एक्सीडेंट में मौत हो जाती है। वीरेन पल्लवी की छोटी बेटी को पालने की जिम्मेदारी लेता है लेकिन पल्लवी की बेटी पूजा (श्रीदेवी) बड़ी होकर वीरेन के प्यार में पड़ जाती है, लेकिन वीरेन ऐसी युवा पूजा के प्यार को स्वीकार नहीं करता है, जिसका अंत सुखद होता है। ऐसा होता है। जब फिल्म रिलीज हुई और फ्लॉप घोषित हो गई, लेकिन बाद में फिल्म को कई अवॉर्ड मिले।

हिंदी समाचार ऑनलाइन पढ़ें और देखें लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने राज्य, बॉलीवुड, खेल जगत, कारोबार से जुड़े हिन्दी में समाचार।

.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here