मनमोहन देसाई ने अपने 29 साल के फिल्मी करियर में 20 फिल्में कीं।

मनमोहन देसाई ने न केवल अमिताभ बच्चन के साथ काम किया, बल्कि राज कपूर, शम्मी कपूर, शशि कपूर जैसे अभिनेताओं के साथ भी काम किया। उन्होंने ‘राजकुमार’, ‘बदतमीज’ और ‘ब्लफमास्टर’ जैसी फिल्में दीं।

मुंबई। 1 मार्च को निर्देशक मनमोहन देसाई की 27 वीं पुण्यतिथि है, जिसने अमिताभ बच्चन को बॉलीवुड का महानायक बनाया। उनका जन्म 26 फरवरी, 1937 को बॉम्बे में गुजराती फिल्म निर्माता किकू भाई देसाई के घर में हुआ था। उन्हें बॉलीवुड में ‘मांजी’ के नाम से जाना जाता था और उन्हें एंटरटेनमेंट नंबर -1 कहा जाता था। उनके पिता ने 1930 में एक फिल्म का निर्देशन भी किया। वह पैरामाउंट स्टूडियो के मालिक भी थे। घर में फिल्मी माहौल होने के कारण उनका रुझान बचपन से ही फिल्मों की ओर था। वर्ष 1960 में, जब मनमोहन देसाई 24 वर्ष के थे, तब उन्हें अपने भाई सुभाष देसाई की फिल्म ‘छलिया’ का निर्देशन करने का अवसर मिला।

मनमोहन देसाई ने अपने 29 साल के फिल्मी करियर में 20 फिल्में कीं, जिनमें से 13 सुपरहिट रहीं। मनमोहन देसाई उन निर्देशकों में से एक हैं जिन्होंने भारतीय सिनेमा को एक नया आयाम दिया। अगर प्रकाश मेहरा ने अमिताभ को ‘क्रोधित युवा’ बना दिया, तो मनमोहन देसाई ने उन्हें ‘बिग बी’ बना दिया। अमिताभ बच्चन के फिल्मी करियर में उनका बहुत बड़ा योगदान है। ‘अमर अकबर एंथोनी’, ‘परवरिश’, ‘सुहाग’, ‘नसीब’, ‘देश प्रेमी’, ‘कुली’, ‘मर्द’, ‘गंगा जमुना सरस्वती’ और ‘स्टॉर्म’ ऐसी फिल्में हैं जिनमें उन्होंने अमिताभ बच्चन को कास्ट किया।

मनमोहन देसाई ने न केवल अमिताभ बच्चन के साथ काम किया, बल्कि राज कपूर, शम्मी कपूर, शशि कपूर जैसे अभिनेताओं के साथ भी काम किया। उन्होंने ‘राजकुमार’, ‘बदतमीज’ और ‘ब्लफमास्टर’ जैसी फिल्में दीं। उन्होंने अपने युग के सुपरस्टार राजेश खन्ना के साथ भी काम किया। राजेश खन्ना के साथ उन्होंने ‘सच्चा झूठा’ और ‘रोटी’ जैसी सफल फिल्में बनाईं। मनमोहन देसाई उन निर्देशकों में से एक हैं जो अभी भी भारतीय सिनेमा के लिए माइलेस्टोन हैं।

उन्होंने जीवन प्रभा गांधी से शादी की, लेकिन वर्ष 1979 में उनका निधन हो गया। मनमोहन देसाई उनके जाने के बाद अकेले पड़ गए। इसके बाद, उन्होंने 1992 में 55 साल की उम्र में नंदा के साथ सगाई की। ऐसा कहा जाता है कि मनमोहन देसाई शादी से पहले नंदा से प्यार करते थे। हालांकि, उन्होंने नंदा के शर्मीले स्वभाव के कारण कभी अपने प्यार का इजहार नहीं किया। मनमोहन देसाई की मृत्यु के बाद नंदा ने शादी नहीं की। मार्च 1994 में मनमोहन देसाई के निधन की खबर ने पूरे बॉलीवुड को हिला कर रख दिया था। खबरों के मुताबिक, उनके घर की बालकनी से गिरने के बाद उनकी मौत हो गई। उस समय ऐसी भी खबरें आई थीं कि उन्होंने आत्महत्या कर ली थी। हालांकि उनकी मौत का रहस्य अभी भी एक रहस्य है। खबरों के मुताबिक उनकी कई फिल्में फ्लॉप हो रही थीं। साथ ही वह कई समय से कमर दर्द से भी पीड़ित थे।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here