माधुरी दिक्षित आज वह सफलता की उस ऊंचाई पर खड़ी है, जहां पहुंचने का सपना हर एक्ट्रेस का होता है. शुरूआती दौर में जब कई फ्लॉप फिल्मों के बाद उन्हें रिजेक्ट किया गया तो ‘तेजाब’ उनकी झोली में गिर गया। 11 नवंबर 1988 को रिलीज हुई इस फिल्म से मिली प्रसिद्धि के बाद माधुरी को पीछे मुड़कर नहीं देखना पड़ा। एन चंद्रा द्वारा निर्देशित इस फिल्म में माधुरी के साथ अनिल कपूर, चंकी पांडे, किरण कुमार, अनुपम खेर भी थे। इस फिल्म में माधुरी ने ऐसा धमाल मचाया था कि वह दर्शकों के दिलो-दिमाग में छा गई थी। इस फिल्म का सुपरहिट गाना ‘एक दो तीन…’ 33 साल बाद भी अपनी ताजगी के साथ आज भी मौजूद है। आइए बताते हैं इस शानदार डांस और गाने से जुड़े कुछ किस्से।

माधुरी दीक्षित अपने आइटम सॉन्ग ‘1,2 3…’ से रातोंरात स्टार बन गईं। माधुरी जहां भी जाती थी लोग उन्हें मोहिनी के नाम से बुलाते थे। इस फिल्म की सफलता में माधुरी के शानदार डांस परफॉर्मेंस का बहुत बड़ा हाथ था। माधुरी ने वो दौर भी देखा था जब लोग उनके फिगर को लेकर नेगेटिव कमेंट्स करने लगे थे। किसी फिल्म की सफलता से किसी की राय कैसे बदल जाती है इसका खुलासा खुद माधुरी ने अनुपम खेर के शो ‘द अनुपम खेर शो’ में किया था। माधुरी ने बताया था कि ‘जब उन्होंने इंडस्ट्री में बतौर हीरोइन दो फिल्मों में काम किया लेकिन उन्होंने काम नहीं किया। इसके बाद कहा गया कि ये हीरोइन मैटेरियल नहीं है। यह बहुत पतला है। लोगों के कई नेगेटिव कमेंट्स सुनकर मेरे अंदर नेगेटिविटी आ गई थी। लेकिन जब तेजाब शुरू हुआ तो यह सब पॉजिटिव निकला। लोगों की भाषा बदल गई है। पतले की जगह स्लिम कहने लगे। लोग कहने लगे कि अरे वह बहुत अच्छा डांस करती है, उसने बहुत अच्छा काम किया है’।

फिल्म ‘तेजाब’ की कहानी एक डांसर के जीवन पर आधारित है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जब अनिल कपूर को पता चला कि ‘तेजाब’ में उनके साथ माधुरी दीक्षित हैं तो उन्होंने कहा कि ‘माधुरी दिखने में अच्छी हैं लेकिन वह कैबरे डांसर जैसी नहीं लगतीं. लेकिन जब फिल्म रिलीज हुई तो माधुरी इस सायरन में बदल गईं कि उन्होंने बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त सफलता की कहानी लिखी।

अनिल कपूर, माधुरी दीक्षित स्टारर तेजाब ने 33 साल पूरे कर लिए हैं। (फोटो क्रेडिट: मूवीज एन मेमोरीज/ट्विटर)

माधुरी दीक्षित को मोहिनी के नाम से मशहूर करने वाले गीत और नृत्य की सफलता में अगर किसी शख्स का नाम नहीं है तो वह बेमानी होगा। वो नाम है मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का। इस गाने को सरोज ने कोरियोग्राफ किया था। बीबीसी से बात करते हुए एक बार माधुरी ने बताया था कि ‘मैंने पहले सरोज जी के साथ काम किया था, इसलिए उन्हें पता था कि मैं इंडियन ट्रेडिशनल डांस अच्छे से कर सकती हूं लेकिन ये लड़की वेस्टर्न डांस नहीं कर सकती. गाने की शूटिंग से पहले सरोज जी ने कई बार रिहर्सल की। तब मैंने सीखा कि बॉलीवुड डांसिंग स्टाइल क्या है। मुझे लगता है कि मैंने ‘एक, दो, तीन…’ गाने पर बहुत अच्छा काम किया लेकिन सरोज जी के बिना यह संभव नहीं होता।

माधुरी दीक्षित, तेज़ाब

सरोज खान तेजाब के मशहूर डांस की कोरियोग्राफर थीं। (फोटो क्रेडिट: मूवीज एन मेमोरीज/ट्विटर)

माधुरी दीक्षित पर फिल्माए गए इस मशहूर गाने को महबूब स्टूडियो में शूट किया गया था। लेकिन जब यह गाना पॉपुलर हुआ तो फिल्म मेकर्स को लगा कि इसका मेल वर्जन भी होना चाहिए। मेल वर्जन गाने की शूटिंग वहीं की गई जहां शाहरुख खान का बंगला ‘मन्नत’ है।

यह भी पढ़ें- बोनी कपूर के पिता सुरिंदर कपूर को पेशावर से मुंबई लाने जा रहे हैं पृथ्वीराज कपूर, जानिए क्या है रिश्ता

दरअसल, बंगले ‘मन्नत’ में एक विला हुआ करता था जहां शाहरुख खान रहते हैं, जिसका नाम विला वियना था। इस विला में कई फिल्मों की शूटिंग हुई। इसी विला में मेल वर्जन ‘एक, दो, तीन…’ की शूटिंग भी की गई थी। इसे फिल्म की रिलीज के करीब 15 हफ्ते बाद ‘तेजाब’ में जोड़ा गया।

हिंदी समाचार ऑनलाइन पढ़ें और देखें लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने राज्य, बॉलीवुड, खेल जगत, कारोबार से जुड़े हिन्दी में समाचार।

,

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here