डिंपल कपाड़िया और सनी देओल ने पहली बार फिल्म ‘मंजिल मंजिल’ में साथ काम किया था। नासिर हुसैन के निर्देशन में बनी यह फिल्म 16 नवंबर 1984 को रिलीज हुई थी। इस फिल्म में डिंपल और सनी के अलावा डैनी डेन्जोंगपा, प्रेम चोपड़ा, कुलभूषण खरबंदा और आशा पारेख जैसे दिग्गज कलाकार थे। दरअसल, हर फिल्म की मेकिंग के दौरान कुछ न कुछ ऐसा होता है जो सालों तक याद रहता है। वहीं फिल्मों की शूटिंग के दौरान कुछ अभिनेता-अभिनेता एक-दूसरे के इतने करीब आ जाते हैं कि फिल्म के साथ-साथ उनकी कहानियां भी मशहूर हो जाती हैं। ऐसा ही कुछ डिंपल कपाड़िया और सनी देओल के साथ हुआ।

जब काका के प्यार में डिंपल ने छोड़ी फिल्मी दुनिया
दरअसल, फिल्म ‘बॉबी’ की जबरदस्त सफलता ने डिंपल कपाड़िया को रातोंरात स्टार बना दिया। अपनी पहली ही फिल्म से लोगों के दिलों में जगह बनाने वाली डिंपल पर उस जमाने के सुपरस्टार रहे राजेश खन्ना का दिल ऐसा था कि दोनों ने शादी कर घर बसा लिया. डिंपल से शादी के वक्त काका ने एक शर्त रखी थी कि वह फिल्मों में काम नहीं करेंगी। कुछ प्यार का प्यार तो किसी कम उम्र की समझ कुछ ऐसी थी कि पहली ही फिल्म में तल्लीन रहने वाली डिंपल फिल्मी दुनिया छोड़कर घर-परिवार में ही फंस गईं। हालांकि, बाद के वर्षों में राजेश खन्ना के साथ संबंध तनावपूर्ण हो गए और उनसे अलग रहने लगे और फिल्म में काम करने का मन बना लिया, लेकिन इस बीच करीब 10 साल बीत चुके थे।

डिंपल कपाड़िया ने 11 साल बाद फिर से फिल्मी पर्दे पर कदम रखा। (फोटो क्रेडिट: मूवीज एन मेमोरीज/ट्विटर)

जब कोई नहीं था तब सनी देओल आ गए
खबरों के मुताबिक डिंपल कपाड़िया ने जब दोबारा फिल्मी पर्दे पर कदम रखने की इच्छा जताई तो कोई भी फिल्म अभिनेता उनके साथ काम करने को तैयार नहीं था. इसका कारण यह था कि फिल्म इंडस्ट्री में राजेश खन्ना, ऊपर आ का काका जैसे नारे मशहूर थे। ऐसे में कौन चाचा से पंगा लेना चाहेगा? सभी को लगा था कि डिंपल के साथ काम करने पर राजेश उनसे नाराज हो जाएंगे। ऐसे में नाराजगी कोई खरीदना नहीं चाहता था। ऐसे में सनी देओल ने डिंपल कपाड़िया का सपोर्ट किया.

तथापि सनी देओल नासिर हुसैन की फिल्म ‘मंजिल मंजिल’ में हीरो थे और बतौर लीड एक्ट्रेस 11 साल बाद डिंपल कपाड़िया ने पर्दे पर वापसी की. हालांकि ये फिल्म कुछ खास कमाल नहीं कर पाई लेकिन इनकी जोड़ी को खूब पसंद किया गया. डिंपल के टूटे दिल को भी सनी का साथ मिला। बॉलीवुड में दोनों की नजदीकियों की चर्चा होने लगी थी. बताया जाता है कि उस दौरान सनी की भी अफेयर में हार हुई थी। इस दौरान उनका अमृता सिंह से ब्रेकअप भी हो गया था।

डिंपल कपाड़िया, सनी देओल

डिंपल कपाड़िया और सनी देओल ने पहली बार मंजिल-मंजिल में काम किया था। (फोटो क्रेडिट: मूवीज एन मेमोरीज/ट्विटर)

सनी देओल और डिंपल कपाड़िया एक ही कश्ती पर सवार थे, इसलिए वे करीब आ गए। जबकि सनी भी शादीशुदा थी और डिंपल दो बेटियों की मां भी थीं. बावजूद इसके उनके रोमांस की काफी चर्चा रही। वहीं रिपोर्ट्स के मुताबिक नासिर हुसैन पहले इस फिल्म में मुख्य अभिनेता के तौर पर ऋषि कपूर को कास्ट करना चाहते थे, लेकिन किसी वजह से ऋषि ने फिल्म करने से मना कर दिया तो नासिर ने सनी को मौका दिया.

यह भी पढ़ें- आ गले लग जा के 48 साल: शूटिंग के दौरान स्पॉट बॉय का खाना खाते थे शशि कपूर!

नासिर हुसैन की फिल्म ‘मंजिल मंजिल’ का एक और दिलचस्प किस्सा है। हुसैन के साथ फिल्म ‘यादों की बारात’ में नासिर के भतीजे आमिर खान ने एक बाल कलाकार की भूमिका निभाई थी। जब नासिर मंजिल मंजिल बना रहे थे तब आमिर ने 12वीं की पढ़ाई पूरी कर ली थी और फिल्म में बतौर असिस्टेंट काम करना चाहते थे। जब उन्होंने अपने चाचा से काम मांगा तो नासिर ने उन्हें इस फिल्म में बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर काम करने का मौका भी दिया. आमिर के काम के प्रति जुनून को देखते हुए, नासिर ने आमिर को होम प्रोडक्शन ‘कयामत से कयामत तक’ में मुख्य अभिनेता के रूप में कास्ट किया। उसके बाद यह सब इतिहास है।

टैग: आमिर खान, डिंपल कपाड़िया, ऋषि कपूर, सनी देओल

,

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here