आमिर खान को जन्मदिन की बधाई। (फोटो साभार: _आमिरचन / इंस्टाग्राम)

अभिनेता आमिर खान (आमिर खान), जो बॉलीवुड में अपने काम को लेकर बहुत गंभीर हैं, को हर फिल्म में उनके जीवन की लड़ाई के कारण मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहा जाता है। आमिर उस दार्शनिक के पत्थर की तरह है, जिस फिल्म में फिल्म का इस्तेमाल किया जाता है, वह फिल्म सोना उगलने लगती है।

मुंबई: नए विषयों पर फिल्में बनाने वाले बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान (आमिर खान) का जन्म 14 मार्च 1965 को मुंबई में हुआ था। आज दुनिया आमिर खान को मिस्टर परफेक्शनिस्ट के नाम से जानती है। आमिर अपनी फिल्म की कहानी से लेकर कास्टिंग, तकनीकी पहलू तक बहुत बारीकी से काम करते हैं। यही कारण है कि भले ही उनकी एक फिल्म दो साल में आ जाए, लेकिन हर फिल्म बहुत अच्छी है। आमिर खान की फिल्में मनोरंजन के साथ-साथ सामाजिक संदेश भी देती हैं। फिल्म की कहानी की मांग के अनुसार, आमिर अपने लुक को बदलने के लिए वजन घटाने से परहेज नहीं करते हैं, बाल, मूंछें सभी बढ़ जाती हैं। कुल मिलाकर, आमिर अपनी फिल्म के अंत तक चरित्र को जीना शुरू कर देते हैं।

आमिर, जो 11 साल की उम्र से फिल्मों में काम कर रहे हैं, उनकी फिल्मों में एक गहरा सार छिपा है, जो फिल्म खत्म होने के बाद भी दर्शकों को लुभाता रहता है। आमिर अपनी हर फिल्म को एक चित्रकार की तरह कैनवास पर खींचते रहते हैं, यही वजह है कि उनकी हर फिल्म में दर्शकों को एक अलग नजरिया देखने को मिलता है। लाइम लाइट से दूर आमिर खान जमीन से जुड़े व्यक्ति हैं।

आमिर खान को बचपन से ही फिल्मी माहौल मिला। उनके पिता ताहिर हुसैन और चाचा नासिर हुसैन जाने-माने फिल्म निर्माता थे। आमिर ने अपने करियर की शुरुआत एक बाल कलाकार के रूप में की थी। उनके चाचा नासिर हुसैन की फ़िल्मों ‘यादों की बारात’ (1973) और ‘होली’ (1984) में काम किया। लेकिन आमिर ने अपनी पहली फिल्म ‘क़यामत से क़यामत तक’ में एक अभिनेता के रूप में अपने अभिनय से सिल्वर स्क्रीन पर ऐसी मासूमियत जगाई कि आमिर को चॉकलेटी हीरो का ख़िताब मिल गया। फिल्म में उनकी सह अभिनेत्री जूही चावला थीं। इन दोनों की जोड़ी को दर्शकों ने काफी पसंद किया था। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट रही थी। इस फिल्म के बाद जूही और आमिर की जोड़ी ने कई हिट फिल्में दीं।

यह आमिर खान के व्यक्तित्व का कमाल है और देखते हैं कि 20-25 साल की छोटी अभिनेत्रियां भी बड़े पर्दे पर उनके साथ रोमांस करती हैं। आमिर ने प्रेम कहानी के अलावा सामाजिक सरोकार से जुड़ी फिल्में कीं और एक के बाद एक हिट फिल्मों की लाइन लगा दी। ‘दिल है कि मानता नहीं’, ‘जो जीता वही सिकंदर’, ‘हम हैं राही प्यार के’ जैसी फिल्मों ने आमिर खान को बॉलीवुड के शीर्ष अभिनेताओं में से एक बना दिया। 1996 की फिल्म ‘राजा हिंदुस्तानी’ को आमिर खान की सबसे बड़ी हिट माना जाता है। वर्ष 2001 में आई ‘लगान’ हिंदी फिल्म उद्योग के इतिहास में एक मील का पत्थर है। इसके अलावा, दर्शक अभी भी ‘थ्री इडियट्स’, ‘गजनी’, ‘तारे जमीं पर’ जैसी सुपर हिट फिल्मों से जुड़े हुए महसूस करते हैं। आमिर ख़ान की आने वाली फ़िल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ का दर्शकों को बेसब्री से इंतज़ार है। इस फिल्म में, ‘थ्री इडियट्स’ के साथ जोड़ी को एक बार फिर दोहराया जा रहा है। करीना कपूर खान को आमिर के साथ फिर से बड़े पर्दे पर देखने के लिए फैंस काफी उत्साहित हैं।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here