राजेश खन्ना डेथ एनिवर्सरी: बॉलीवुड इंडस्ट्री के पहले मेगास्टार कहे जाने वाले राजेश खन्ना बॉलीवुड के पहले मेगास्टार थे, जिन्होंने अपनी अदाकारी से दुनिया को दीवाना बनाया। बॉलीवुड में ‘काका’ के नाम से मशहूर राजेश खन्ना का स्टारडम कोई और स्टार नहीं देख सकता था. आज उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया, नौ साल हो गए (राजेश खन्ना की पुण्यतिथि)। आज ही के दिन यानि 18 जुलाई 2012 को उनका निधन हुआ था। भले ही वे आज हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन अपनी फिल्मों और शानदार काम के कारण वे हमेशा जीवित रहेंगे। आज उनकी पुण्यतिथि पर हम बताएंगे कि उन्हें मेगा स्टार का टैग कैसे मिला और दुनिया छोड़ते समय उनके अंतिम शब्द क्या थे।

सालों की मेहनत के बाद मिली सफलता
राजेश खन्ना 70 और 80 के दशक में बॉलीवुड के टॉप एक्टर रह चुके हैं। कहा जाता है कि बॉलीवुड में एक दौर था जब राजेश खन्ना फिल्म के हिट होने की गारंटी बन गए थे। राजेश खन्ना फिल्मों में आते ही हिट नहीं हुए, लेकिन कई सालों की मेहनत के बाद उन्होंने पहले सुपरस्टार का मुकाम हासिल किया।

उनके प्रशंसक राजेश खन्ना को काका के नाम से बुलाते थे। फाइल फोटो

राजेश खन्ना का असली नाम नहीं था
उनके प्रशंसक राजेश खन्ना को काका के नाम से पुकारना पसंद करते हैं, लेकिन राजेश खन्ना का पहला नाम जतिन खन्ना था। उन्हें बचपन से ही अभिनय में दिलचस्पी थी। इसलिए उन्होंने अपने करियर की शुरुआत थिएटर से की और फिर बॉलीवुड पर राज किया।

राजेश खन्ना की पुण्यतिथि, राजेश खन्ना, बॉलीवुड, बॉलीवुड के पहले मेगा स्टार, राजेश खन्ना के अंतिम शब्द, राजेश खन्ना की 9वीं पुण्यतिथि, सोशल मीडिया, थ्रोबैक, राजेश खन्ना, राजेश खन्ना की पुण्यतिथि

राजेश खन्ना के लुक्स पर लड़कियां फिदा हो गईं। फाइल फोटो

3 साल की मेहनत के बाद मिला नाम-प्रसिद्धि
राजेश खन्ना ने अपने अभिनय करियर की शुरुआत चेतन आनंद की फिल्म ‘आखिरी खत’ से की थी। यह फिल्म साल 1966 में रिलीज हुई थी, लेकिन इस फिल्म से उनके करियर को कोई फायदा नहीं हुआ। इस दौरान काका खुद को एक अभिनेता के तौर पर साबित करने के लिए कड़ी मेहनत करते रहे। इसके बाद 1969 में शक्ति सामंत की फिल्म ‘आराधना’ से राजेश खन्ना एक सफल अभिनेता के तौर पर बॉलीवुड में स्थापित हुए। फिल्म ‘आराधना’ के बाद राजेश खन्ना बॉलीवुड में रोमांटिक एक्टर के तौर पर मशहूर हो गए। इसके बाद राजेश खन्ना पहले ऐसे स्टार बने जिन्होंने एक के बाद एक लगातार 15 हिट फिल्में दीं।

काका के लुक्स की दीवानी थीं लड़कियां
लड़कियां अपने लुक्स की इतनी दीवानी थीं कि वे अपनी मांगों को उस धूल से भर देती थीं जो उनकी कार के जाने के बाद उड़ जाती थी। राजेश खन्ना के स्टारडम से जुड़े किस्से आज भी लोग उनके फैन्स के दिल से बताना और सुनना पसंद करते हैं.

राजेश खन्ना की पुण्यतिथि, राजेश खन्ना, बॉलीवुड, बॉलीवुड के पहले मेगा स्टार, राजेश खन्ना के अंतिम शब्द, राजेश खन्ना की 9वीं पुण्यतिथि, सोशल मीडिया, थ्रोबैक, राजेश खन्ना, राजेश खन्ना की पुण्यतिथि

मेगास्टार की अंतिम विदाई हो चुकी थी। फाइल फोटो

ये आखिरी शब्द थे
राजेश खन्ना अंतिम समय में गंभीर रूप से बीमार पड़ गए और 18 जुलाई 2012 को बीमारी के कारण उनका निधन हो गया। राजेश खन्ना के आखिरी दिनों में बेटी ट्विंकल और दामाद के बेहद करीब थी। राजेश खन्ना के निधन के बाद उनके दोस्त अमिताभ बच्चन ने अपने ब्लॉग के जरिए दुख व्यक्त किया। उन्होंने इस ब्लॉग में बताया था कि जब वे राजेश खन्ना के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे थे। तभी उनके किसी करीबी ने बताया कि राजेश खन्ना के आखिरी शब्द थे ‘टाइम इज अप’, ‘पैक अप’।

मेगास्टार की अंतिम विदाई हुई थी
18 जुलाई 2012 को जब राजेश खन्ना अपनी अंतिम यात्रा पर गए तो उनके पीछे परिवार और दोस्तों के साथ प्रशंसकों की भीड़ उमड़ पड़ी। आंखों में आंसू लिए उनके फैंस उन्हें अलविदा कहने आए लेकिन उनके मेगास्टार को जाने देना इतना आसान नहीं था.

हिंदी समाचार ऑनलाइन पढ़ें और लाइव टीवी न्यूज़18 को हिंदी वेबसाइट पर देखें। जानिए देश-विदेश और अपने राज्य, बॉलीवुड, खेल जगत, कारोबार से जुड़ी खबरें।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here